यौन उत्पीड़न के खिलाफ समिति

यौन उत्पीड़न शिकायत समिति
कें. ति. उ. शि. सं. सारनाथ, वाराणसी-221007

 

कें. ति. उ. शि. सं. की यौन उत्पीड़न शिकायत समिति

माननीय भारतीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा विशाखा विरुद्ध राजस्थान राज्य की याचिका निस्तरित कर तय किए गए निर्देशों के आधार पर, कें. ति. उ. शि. सं. इस बात के लिए प्रतिबद्ध है कि विश्वविद्यालय का कोई भी सदस्य अन्य सदस्य का लैंगिक उत्पीड़न न करे ।

अगर कोई कर्मचारी या छात्र इस नीति का उल्लंघन करने का अपराधी पाया जाता हों, तो उसके विरुद्ध पूर्ण अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी-जिसमें उसे विश्वविद्यालय से निष्कासित करना/निलंबित करना/निकाल दिया जाना शामिल है ।

इस मामले की शिकायतें लैंगिक उत्पीड़न के विरुद्ध कार्रवाई करने के लिए गठित समिति में दर्ज कराई जा सकती हैं (जिसका विवरण नीचे दिया गया है ।) या फिर सीधे प्रशासनिक माध्यम से भी संपर्क किया जा सकता है । शिकायत करनेवाले व्यक्ति की पहचान हर हाल में अत्यन्त गोपनीय रखी जाएगी ।

यौन उत्पीड़न शिकायत समिति  के सदस्य:

क्रमांक

नाम 

पद

०१. सुश्री ज्योति सिंह, सहायक प्राध्यापक पीठासीन अधिकारी
०२. डॉ अनिमेष प्रकाश सदस्य

०३.

छेरिंग डोलकर, शोध सहायक

सदस्य

०४.

कर्मा सोनम पल्मो, शोध सहायक

सदस्य सचिव