शैक्षणिक उपलब्धियां

नियुक्ति/कार्य - भारत में

  • अनुसंधान सहायक, कें. उ. ति. शिक्षा संस्थान, सारनाथ, 1982-1986
  • संपादक, 1986-1999
  • तिलक महाराष्ट्र विद्यापीठ में आमंत्रित प्राध्यापक, 1998
  • प्राध्यापक, 1999
  • अतिरिक्त निदेशक, 1999-2001
  • निदेशक/कुलपति, 2001

  • आमंत्रित प्राध्यापक
  • हैम्पशायर कॉलेज, मसेशुसेट्स्, यूएसए में आमंत्रित प्राध्यापक, बसंत सत्रार्ध, 1996
  • तस्मानिया विश्वविद्यालय, ऑस्ट्रेलिया में आमंत्रित प्राध्यापक, शिशिर सत्रार्ध, 1999
  • ऐमहर्स्ट् कॉलेज, एम् ए, यूएसए, में आमंत्रित प्राध्यापक, एक वर्ष के लिए, 2000
  • स्मिथ कॉलेज, एम् ए, यूएसए, में आमंत्रित प्राध्यापक, 2000
  • प्रकाशन-पुस्तकें

  • दुर्लभ थन्-का (तिब्बती पट्ट-चित्रांकनों) की तालिका (जो नई दिल्ली में कें. उ. ति. श. संस्थान, सारनाथ तथा तिब्बत हाउस, नई दिल्ली के संयुक्त तत्त्वावधान में 1986 में आयोजित प्रदर्शन के लिए प्रकाशित हुई थी ।
  • ‘अभिधम्मत्थसंगहो’ का सहभाग-संपादन, – कें. उ. ति. शि. संस्थान द्वारा प्रकाशित, 1989
  • ‘रत्नावली’ का तिब्बती संस्करण तथा उस पर लिखा गया तिब्बती में अनुवादित एकमेव भारतीय भाष्य का समालोचनात्मक संपादन, विस्तृत प्रस्तावना तथा परिशिष्टों सहित – कें. उ. ति. शि. संस्थान द्वारा खंड 1 के रूप में प्रकाशित, 1990
  • नागार्जुन कृत ‘पिड़िक्रम’ तथा ‘पंचक्रम’ के संस्कृत तथा तिब्बती पाठों की सहभाग-संपादित समलोचनात्मक आवृत्ति, कें. उ. ति. शि. संस्थान, सारनाथ, द्वारा प्रकाशित, 2001
  • ‘ओशन ऑफ रीज़निंग’ : नागार्जुन के मूलमध्यमककारिका पर लिखे सबसे अधिक विस्तृत भाष्य का अनुवाद, ऑक्स्फोर्ड युनिवर्सिटी प्रेस, न्यूयॉर्क द्वारा प्रकाशित, 2006
  • वार्ताएँ
    यूएसए, यूरोप, ऑस्ट्रेलिया, रुश, थाइलैण्ड तथा भारत के विविध विश्वविद्यालयों में भाषण दिये ।

    लेख
    विविध नियतकालिकों, अभिनन्दन पत्रिकाओं, स्मरणिकाओं तथा विशेष मासिकाओं आदि में अनेकानेक लेखों का योगदान ।

    सम्मेलन/चर्चा-सत्
    भारत में तथा विदेशों में राष्ट्रीय तथा अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के कई सम्मेलनों में, चर्चा-सत्रों में, कार्यशालाओं में सहभाग ।