भावी प्रकल्प

New Page 1
1 शीर्षक : सुवर्णमाल (अभिसमयालंकार पर एक बृहत् टीका)
लेखक
: जे च़ोंखापा
भाषा
: तिब्बती
ग्रंथ-स्वरूप
: डॉ. लोब्संग दोर्जी राब्लिंग द्वारा तिब्बती पाठ का समालोचनात्मक सम्पादन ।
2 शीर्षक : अभिधर्मसमुच्चय
लेखक
: आचार्य असंग
भाषा
: संस्कृत तथा तिब्बती
ग्रन्थ-स्वरूप
: डॉ. लोब्संग द्वारा तिब्बती तथा संस्कृत पाठ का समालोचनात्मक संपादन ।
3 शीर्षक : मध्यमक-रत्न-प्रदीप
लेखक
: आचार्य भव्य
भाषा
: तिब्बती तथा हिंदी
ग्रंथ-स्वरूप
: पूज्य ग्याल्छ़ेन नमडोल द्वारा हिंदी अनुवाद तथा समालोचनात्मक संपादन।
4 शीर्षक : श्रीगुह्यसमाज-महायोग-तंत्रोत्पत्ति-क्रम-साधना-सूत्र-मेल पकोग
लेखक
: आचार्य नागार्जुन
भाषा
: संस्कृत तथा तिब्बती
ग्रंथ-स्वरूप
: पूज्य ग्याल्छ़ेन नमडोल द्वारा पुनरुद्धार, अनुवाद तथा समालोचनात्मक संपादन ।
5 शीर्षक : मध्यमकार्यसंग्रह
लेखक
: आचार्य भव्य
भाषा
: संस्कृत तथा तिब्बती
ग्रंथ-स्वरूप
: डॉ. पेन्पा दोर्जी द्वारा पुनरुद्धार, अनुवाद तथा समालोचनात्मक संपादन ।